Friday, July 6, 2007

******मुश्किल है*********



Jab Dil Me Sare Zasbaat Mohabbat ke Mar jaten Hai,
Aur Dil Gum Ki Yaddon Me Doob Jata Hai, Toh
Dil Se Kuch Aaise hee AAAAAH Nikalti Hai,
Jiska Dard Sird Sehne Wala He Mehsoos Kar Sakta Hai......

Shayad Nacheez Ki Yeh Nacheez Ada Bha Jayee Aapko.........





वादे करना तो आसां है मुश्किल है उन्हें निभा देना,
अरमान जगाना आसां है मुश्किल है उन्हें दबा देना.........

दुनिया है दुश्मन आशिक की यहां कदम कदम पर पहरे हैं,
आसां है करना इश्क मगर मुश्किल है इश्क छिपा देना............

इस राह-ए-मोहब्बत में पल पल सौ दर्द ज़िगर में उठते हैं,
रुसवाई प्यार की आसां है मुश्किल है अश्क बहा देना................

सिलसिला वफ़ा का और ज़फ़ा का इक अनबूझ कहानी है,
आसां है प्यार शुरू करना मुश्किल है प्यार भुला देना.....................

जब तर्क मोहब्बत होती है तब बहुत दिल दुखता है,
यादों का आना आसां है मुश्किल है याद मिटा देना...........................

5 comments:

उन्मुक्त said...

विचार तो ठीक हैं पर जीवन में जो कल था वह झूट था जो आज है वही सच। उसी पर जीना है कल की बात पर क्यों दुख किया जाय।

UttaM said...

Kya baat hai Priyanka!!
Chaa gaye ho tum!!

वादे करना तो आसां है मुश्किल है उन्हें निभा देना,
Yeh bahut sahi hai..
Isi liye to hum "Waada kum karte hain, Pyaar jyaada karte hain"


Mushkil to sab kuch hai ishq mein..
Kyon ki ishq aasaan to nahi hai..
Magar woh jo ishq se door hai..
Woh insaan insaan to nahi hai..
(Genuinely Uttam's)

rangnath said...

Priyanka Ji bahut khoob likha hai aapne ....Yaadon kaa aana aasaan hai mushkil hai yaad mita dena...


dil dil na tha DARD se dil bana.....ye kya kam hai ki jeene ka dhang aa gya.......

:)

AASHISH said...
This comment has been removed by the author.
AASHISH said...

वादे करना तो आसां है मुश्किल है उन्हें निभा देना,
अरमान जगाना आसां है मुश्किल है उन्हें दबा देना.........

kya baat kahi hai aapne ...
VADE karna aasan hai muskil hai nibhana.....

Raah pe to bahut log chal padte hai par bahut kam hi hote hai jinhe MAJIL milti hai